माल ढुलाई में चक्रधरपुर रेल मंडल का कीर्तिमान

2020 में 125 मिलियन टन का आंकड़ा पार कर जाने का दावा

0 162

चक्रधरपुर। दक्षिण पूर्व रेलवे के मंडल रेल प्रबंधक छत्रसाल सिंह एडीआरएम बीके सिन्हा व सीनियर डीसीएम मनीष पाठक ने संवाददाता सम्मेलन में जानकारी देते हुए कहा कि आने वाला साल 2020 में रेल मंडल माल ढुलाई में 125 मिलियन टन का आंकड़ा पार कर जाएगा । मंडल रेल प्रबंधक छत्रसाल सिंह ने कहा वैगन की कमी के बावजूद भी रेल मंडल ने अक्टूबर माह तक 100 मिलियन टन माल ढुलाई का आंकड़ा पार कर लिया है ।पिछले वर्ष 2017 मैं ही 100 मिलियन टन माल ढुलाई का आंकड़ा पूरा हो चुका था।

पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

वहीं उन्होंने कहा चक्रधरपुर रेल मंडल के राजखरसावां से डोंगा पोसी तक चक्रधरपुर से सोनुआ तक सोनवा से बिसरा तक थर्ड लाइन का निर्माण कार्य प्रगति पर है 2 से 3 महीना में निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा ।उन्होंने बताया कि पिछले 1 साल में यात्री ट्रेनों के समय सारणी में काफी सुधार हुआ है ।

वहीं उन्होंने कहा एन आई वर्क के कारण पैसेंजर ट्रेनों को रद्द किया गया इससे छोटे स्टेशनों की यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। हालांकि एन आई वर्क खत्म होते ही इन समस्याओं का समाधान हो जाएगा। इस बीच उन्होंने धनबाद रेल मंडल की तारीफ करते हुए कहा कि 125 मिलन टन का आंकड़ा कोयला ढुलाई वह माल ढुलाई में उन्होंने पूरा कर लिया है। बहुत जल्द चक्रधरपुर रेल मंडल भी इस आंकड़े को पार करके अपनी उपस्थिति दर्ज कराएगी। उन्होंने रेलवे पदाधिकारी व कर्मचारी रेल कर्मियों का शुक्र गुज़ारी करते हुए कहा है कि इनसभी कि मेहनत और लगन के कारण माल ढुलाई में चक्रधरपुर रेलवे मंडल अव्वल रहा है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: