Browsing Category

बिहार

पत्रकार सुनील सौरभ ‘विद्यावाचस्पति’ व ‘हिंदी भूषण श्री’ सम्मान के लिए चयनित

गया। बिहार के जाने-माने पत्रकार व साहित्यकार सुनील सौरभ को हिन्दी पत्रकारिता व साहित्य के क्षेत्र में लंबे समय से उत्कृष्ट सेवाएं प्रदान करने के लिए विक्रमशिला हिंदी विद्यापीठ (भागलपुर) द्वारा 'विद्यावाचस्पति' सम्मान के लिए चयनित किया गया…

कोरोना काल में लाशों का व्यापार

-देवेंद्र गौतम भारत में सर्पदंश से मरने वालों की लाशें बहती नदी में प्रवाहित करने का प्रचलन रहा है। लेकिन अभी गंगा में जो दर्जनों की संख्या में बहती लाशें मिल रही हैं वह महामारी काल की अंतिम संस्कार से वंचित लाशें हैं। आपदा के समय लाशो की…

नीतीश कुमार के दामन में दाग़ लगा गए मेवालाल

-देवेंद्र गौतम बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने डॉ मेवालाल चौधरी को शिक्षामंत्री बनाकर सेवा करने और मेवा खाने का भरपूर मौका दिया लेकिन विपक्ष का ऐसा दबाव पड़ा कि उन्हें 24 घंटे के अंदर इस्तीफा देना पड़ गया। उन्हें माया मिली…

बिहारः लोक के खिलाफ तंत्र का षडयंत्र

-देवेंद्र गौतम बिहार में फर्जी राष्ट्रवाद के नाम पर लोक का जनादेश तंत्र में समाहित कर दिया गया। वहां असली जंगलराज का खुला प्रदर्शन किया गया। राजद ने बिहार में 119 सीटों पर धांधली का आरोप लगाया है। मतगणना के दौरान नीतीश कुमार और सुशील…

 भाजपा के रडार पर नीतीश कुमार

-देवेंद्र गौतम भारतीय जनता पार्टी का मकसद बिहार में चुनाव जीतना और सरकार बनाना प्रतीत नहीं होता। नीतीश कुमार को मार्गदर्शक मंडल में भेजना उसका लक्ष्य है। बिहार में भाजपा का कभी कोई बड़ा आधार नहीं रहा है। वह किसी क्षेत्रीय दल के कंधे पर…

बिहार में दूसरे चरण के चुनाव की चुनौती

पटना। बिहार विधानसभा के 3 नवंबर को होने वाले दूसरे चरण के मतदान को लेकर सभी राजनीतिक दलों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। यह चरण ज्यादा चुनौतिपूर्ण है क्योंकि इसमें महागठबंधन में शामिल राष्ट्रीय जनता दल (राजद) और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन…

नीतीश विरोधी लहर ने छुड़ाए भाजपा के पसीने

-देवेंद्र गौतम भाजपा जब चुनावी मैदान में उतरती है तो भारत-पाकिस्तान, हिंदू-मुसलमान, अनुच्छेद 370 और सैन्य राष्ट्रवाद के नाम पर वोट मांगती है। भावनाओं को भड़काती है। समाज को बांटती है और उन्माद की लहरों पर सवार होकर जीत हासिल करने की…

बाल मित्र बिहार बनाने के लिए ट्रैफिकिंग के शिकार और पूर्व बाल मजदूर रहे युवाओं ने पेश किया मांगपत्र

बिहार में विधानसभा चुनाव की सरगर्मियों के बीच कैलाश सत्‍यार्थी चिल्‍ड्रेन्‍स फाउंडेशन (केएससीएफ) द्वारा संचालित “मुक्ति कारवां” जन-जागरुकता अभियान को संचालित करने वाले बंधुआ बाल मजदूरी और ट्रैफिकिंग से मुक्‍त युवाओं ने अपना एक मांगपत्र पेश…

बिहार में गेम चेंजर बन सकते हैं शत्रुघ्न सिन्हा

-देवेंद्र गौतम बिहार में विपक्षी दलों के महागठबंधन में शामिल कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी के प्रमुख अविनाश पांडेय ने बिहार चुनाव की तिथियों की घोषणा के बाद कहा कि कांग्रेस बिहार की 243 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ने को तैयार है। हालांकि…

क्या कर पाएगा बिहार के चुनावी दंगल में यशवंत सिन्हा का मोर्चा

पटना। पूर्व केंद्रीय वित्तमंत्री और विश्वविख्यात अर्थशास्त्री यशवंत सिन्हा ने बिहार चुनाव में हस्तक्षेप करने के लिए 16 दलों का यूनाइटेड डेमोक्रेटिक एलायंस बनाया है अभी तक बिहार के तीन चौथाई जिलों में जनसभाएं कर चुके हैं। इस गठबंधन में मुख्य…