पेट्रोल-डीजल की बढ़ती़ कीमतों के विरोध में कांग्रेस का सांकेतिक प्रदर्शन

असंगठित श्रमिक कांग्रेस के हरियाणा प्रदेश अध्यक्ष राकेश तंवर ने दिया बड़े आंदोलन का संकेत

0 163

पलवल। देश में लगतार बढती डीजल पेट्रोल की कीमतों के विरोध में हरियाणा कांग्रेस प्रभारी विवेक बंसल और प्रदेश अध्यक्षा सेलजा कुमारी के निर्देशन में, हरियाणा असंगठित श्रमिक कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राकेश तंवर ने पेट्रोल पम्प के बाहर सांकेतिक प्रदर्शन किया. इस प्रदर्शन का उद्देश्य केंद्र सरकार को चेतावनी देना है, कि यह सांकेतिक प्रदर्शन मात्र ट्रेलर है, कांग्रेस तेल की कीमत और महंगाई के विरोध में अब आक्रामक हो रही है. आज न केवल हरियाणा में बल्कि अन्य राज्यों में भी इस तरह के प्रदर्शन की खबर है.
कांग्रेस अपनी विपक्ष की भूमिका में बाकी अन्य क्षेत्रीय दलों पर इसलिए भारी पड़ती है क्योंकि कांग्रेस जितना प्रसार अन्य दलों के पास नही है, कांग्रेस किसी भी वक्त पूरे देश में एक साथ आन्दोलन छेड सकती है, और केंद्र सरकार भी यह तथ्य जानती है, इसलिए केंद्र सरकार भी इस प्रदर्शन को संकेत के रूप में लेगी और शायद कुछ दिनों में तेल की कीमत में कुछ कमी देखने मिल जाए, लेकिन जिस तरह मोदी सरकार ने काम का तरीका अपनाया है उससे ज़ाहिर है कि आम आदमी को बहुत ज्यादा राहत मिलने की संभावना न के बराबर है.
अब कांग्रेस इस मुद्दे पर अगला कदम क्या लेती है यह जल्दी ही साफ़ हो जाएगा, फिलहाल हरियाणा में सेलजा कुमारी अपने चिर परिचित अंदाज में जमीन पर कांग्रेस को मजबूत करने में लगी हैं, उनके साथ विवेक बंसल एक अनुभवी नेता हैं जो खट्टर सरकार को घेरने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं. पलवल क्षेत्र में पहली बार प्रदेश स्तर का पद लाने वाले राकेश तंवर पृथला को क्षेत्र के नागरिक इसी स्वरुप में जानते हैं, उनके प्रदर्शन और धरने को लेकर सभी परिचित हैं, पलवल की राजनीती में राकेश तंवर को जिम्मेदारी देकर भविष्य के सभी आन्दोलन और प्रदर्शनों में ताकत झोंकने का प्रयास हो रहा है. जनता कांग्रेस को आक्रामक रूप में देखना चाहती है और सेलजा कुमारी यह जनभावना जान गई है, इस तरह के प्रदर्शन से जनता में सदेश देना चाहती हैं कि कांग्रेस भी अपनी जिम्मेदारी जानती है और अपना काम बखूबी कर रही है.
वर्तमान हालात को देखते हुए कोई शक नही है कि सेलजा कुमारी का पलवल क्षेत्र में राकेश तंवर का आक्रामक रूप से सक्रिय करना किसी बड़ी भूमिका का इशारा है. धरने प्रदर्शनों की संख्या में बढ़ना और प्रदेश सरकार पर कोई बड़ा वार करने की सुगबुगाहट से कांग्रेस के बिछाए खेल का संकेत जनता को मिलने लगा है.

पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: