आंदोलन के डर से कांग्रेस नेता राकेश तवंर को दिनभर रोककर रखा

0 224

पलवल।किसान विधेयक पारित कराने के बाद मोदी सरकार किसानों के आंदोलन का दमन करने की पूरी तैयारी कर चुकी है। सरकार विपक्षी नेताओं की गतिविधियों पर नज़र गड़ाए हुए है। इसी क्रम में आज हरियाणा के जाने-माने कांग्रेसी नेता राकेश तंवर को पलवल जिले के पृथला इलाके से पुलिस ने हिरासत में ले लिया और पूरे दिन एक प्राइवेट होटल में बिठाकर रखा। देर शाम उन्हें वहीं से छोड़ दिया गया।
राकेश तंवर मोदी सरकार की गलत नीतियों के खिलाफ आवाज़ उठाते रहते हैं और उनके वीडियो को देखने और शेयर करने वाले हजारों में हैं। उनकी बातों का असर पड़ता है। वे लगातार जनांदोलनों का नेतृत्व करते रहे हैं। राज्य सभा में किसान विरोधी तीन विधेयकों के पारित होने और कानून बन जाने के बाद उन्होंने सोशल मीडिया पर अपनी तीखी प्रतिक्रिया दी थी। इसे प्रधानमंत्री मोदी के कार्पोरेट क्षेत्र के मित्रों का हित साधने वाला और कृषि क्षेत्र को बर्बाद करने वाला काला कानून करार दिया था।
इस कानून को लेकर पूरे देश के किसान आंदोलित हैं और मोदी सरकार उनकी आवाज़ को दबाने के लिए तानाशाही पर उतर आई है। राकेश तंवर जी ने घटना के बारे में पूछने पर बताया कि सरकार चाहे जितनी कोशिश कर ले इन काले कानूनों को लागू नहीं होने दिया जाएगा। संसद में सरकार ने बहुमत के बल पर और राज्यसभा में जबरन पारित तो करा लिया लेकिन फैसला सड़कों पर और खेत खलिहान में होगा।

पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: