ममता के खिलाफ फिर हमलावर हुए विजयवर्गीय

कहा- बंगाल में सीएबी- एनआरसी लागू  करने से नहीं रोक पायेंगी ममता

0 109

ओवैसी को गाली देकर अपनी छवि सुधार रही हैं ममता

पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

कोलकाता। भाजपा के केंद्रीय प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय प. बंगाल में उपचुनावों के दौरान मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर लगातार हमलावर हैं। हाल में ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में नागरिकता कानून व एनआरसी लागू नहीं होने की धमकी दी थी। इसपर जवाबी हमला करते हुए श्री विजयवर्गीय ने  कहा कि नागरिकता कानून और एनआरसी लागू  करने का अधिकार केंद्र सरकार का है. राज्य सरकार का कोई अधिकार नहीं है. भाजपा महासचिव व प्रदेश भाजपा के केंद्रीय प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि  ममता जी नागरिकता संशोधन विधेयक (सीएबी) या एनआरसी लागू होने से रोकने वाली कौन होती हैं?  नागरिकता देने का अधिकार केंद्र सरकार का है. केंद्र सरकार नाम तय करेगी और नागरिकता देगी. ममता जी जबदस्ती कह रही हैं कि सीएबी लागू नहीं होने देंगी.  देश की सुरक्षा के लिए घुसपैठियों को बाहर निकालना है, तो निकालेंगे, ममता जी के सहारे मोदी जी की सरकार नहीं चल रही है.

श्री विजयवर्गीय ने औवेसी पर ममता बनर्जी के बयान पर टिप्पणी करते हुए कहा कि:ममता जी अपनी छवि साफ्ट बनाने के लिए इस प्रकार का बयान दे रही हैं. ओवैसी से ज्यादा ममता जी कट्टरपंथी हैं. सारा बंगाल जानता है कि उन्होंने मुहर्रम के दौरान दुर्गा पूजा के विसर्जन को रोका था. सरस्वती पूजन करने वाले लोगों को रोकने वालों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की थी. दाड़ीभीत में संस्कृत  की शिक्षक की मांग करने वाले राजवंशी नवजवानों को गोलियों से भून दिया और उर्दू टीचर को भेज दिया था, लेकिन अब भाजपा की डर से अपनी कट्टरपंथी छवि को हटाना चाहती हैं और ओवैसी को गाली देकर अपनी छवि उज्जवल करने की कोशिश कर रही हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: