बढ़ायी गयी ऋचा भारती के घर की सुरक्षा, अबु आजमी वसीम खान की खोज तेज

0 88
  1. रांची : सोशल साइट पर धार्मिक टिप्पणी को लेकर चर्चा में आयी पिठोरिया निवासी ऋचा भारती उर्फ ऋचा पटेल के घर की सुरक्षा गुरुवार को पुलिस प्रशासन ने बढ़ा दी है।ऋचा और उसके परिवार की सुरक्षा के मद्देनजर चार जवानों की तैनाती की गयी है।  गुरुवार को भी हिंदू संगठनों के लोग ऋचा पटेल के घर पहुंचे और मदद का भरोसा दिलाया।दूसरी ओर ऋचा को स्थानीय कांके विधायक डॉ जीतूचरण राम से अपेक्षित सहयोग नहीं मिलने से ग्रामीण नाराज दिखे। नाराज ग्रामीणों ने पिठोरिया केे  अमवेेेडकर चौक पर विधायक का पुतला दहन किया। ग्रामीण विधायक के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे। ग्रामीणों का आरोप है कि विधायक द्वारा ऋचा पटेल मामले में कुछ भी मदद नहीं की गयी। जबकि उन्हें फोन पर मामले की सूचना दी गयी थी।वहीं ऋचा भारती मामले में असहयोगात्मक रवैया अपनाने को लेकर गुरुवार को बीआइटी चौक पर भाजपा, बजरंग दल व विहिप के कार्यकर्ताओं ने कांके विधायक डॉ जीतूचरण राम का पुतला फूंका।  भाजयुमो के मेसरा मंडल अध्यक्ष शिवलाल महतो ने कहा कि विधायक जन समस्याओं से दूर रहते हैं, जिससे कार्यकर्ताओं में आक्रोश है। ऋचा भारती मामले में सहयोग के लिए कार्यकर्ता उन्हें फोन करते रहे पर विधायक द्वारा कोई रिस्पॉन्स नहीं दिया गया। वहीं बजरंग दल प्रखंड सह संयोजक अमित साहू, अभिषेक महतो, अविनाश सिंह, प्रताप साहू, प्रह्लाद साहू ने भी अपनी बातें रखी। इससे पूर्व कार्यकर्ताओं ने विधायक के विरोध में नारे लगाये।  अबु आजमी वसीम खान की खोज तेज
  2. रांची : ऋचा के खिलाफ अभद्र टिप्पणी किये जाने को लेकर आरोपी अबु आजमी वसीम खान के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने के बाद पुलिस ने उसकी धर-पकड़ के लिए प्रयास तेज कर दिया है। इसकी पुष्टि एएसपी मुख्यालय-1 अमित रेणु ने की है। इस मामले में हिंदू समुदाय की धार्मिक चीजों को लेकर ऋचा के खिलाफ फेसबुक पर अभद्र टिप्पणी करने पर हिंदू क्रांति सेना के रवि रंजन, विक्रम सिंह, पंकज सिंह सहित पांच लोगों ने बुधवार को पिठोरिया थाना में शिकायत की थी। इधर, बार एसोसिएशन ने मजिस्ट्रेट एमके सिंह के कोर्ट का बहिष्कार वापस लिया रांची। जिला बार एसोसिएशन ने ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट (जेएम) मनीष कुमार सिंह की अदालत का कार्य बहिष्कार वापस ले लिया है। एसोसिएशन के अध्यक्ष शंभू प्रसाद अग्रवाल अौर महासचिव कुंदन प्रकाशन ने गुरुवार को हुई बैठक के बाद कहा कि जमानत के आदेश में सुधार किया गया है और कुरान बांटने की शर्त हटा ली गयी है, इसलिए शुक्रवार से अधिवक्ता जेएम मनीष कुमार सिंह के कोर्ट में सामान्य रूप से काम करेंगे। इधर, अधिवक्ताओ के एक समूह जो बहिष्कार से सहमत नहीं थे, उन्होंने जेएम मनीष कुमार सिंह की अदालत में गुरुवार को मामलों की पैरवी की।
पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: