गणित में कम नम्बर आने पर घर में पड़ी डांट तो छात्रा ने बिल्डिंग से कूदकर दे दी अपनी जान

0 42

राँची:- अदिति 12वीं की छात्रा थी। दो-तीन पहले ही रिजल्ट निकला था। गणित में कम अंक आए थे। जबकि कुलमिलाकर 78 फीसदी अंक थे। पिता ने कम अंक आने पर बेटी को डांटा ।बेटी ने इसे दिल पर ले लिया। घर से मॉल पहुंची और सातवें मंजिल से कूदकर अपनी जान दे दी।

पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

यह घटना रांची में शुक्रवार दिन के 11.30 बजे यह घटित हुई है । पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए रिम्स भेज दिया। छात्रा अदिति कुमारी रातू रोड इंद्रपुरी रोड नंबर एक की रहने वाली थी। वह डीएवी गांधी नगर स्कूल की 12वीं की छात्रा थी। सीबीएसई परीक्षा के रिजल्ट के बाद से ही वह तनाव में थी।

बात शुक्रवार सुबह की है जब पिता राजेश कुमार ने रिजल्ट की बात को लेकर बेटी को डांटा । थोड़ी देर बाद छात्रा घर से निकली और अपनी इहलीला समाप्त कर ली। इससे पहले उसने मां को कॉल कर कहा था कि मैं अब जा रही हूँ । मैं एक कॉम्प्लेक्स के सबसे ऊपरी मंजिल पर हूं। अब कहानी खत्म। इतना कहते हुए फोन काट दिया था।

छात्रा घर से शुक्रवार सुबह सात बजे मिनरल वाटर लाने के बहाने स्कूटी से अपनी छोटी बहन को साथ लेकर निकली थी। कुछ दूर जाने पर उसने छोटी बहन को उतार दिया और अकेले निकल पड़ी। छोटी बहन ने घर लौटकर बताया कि दीदी उसे उतारकर बिना कुछ बताए कहीं चली गई है । यह सुनने के बाद पिता उसे तलाश करने निकल पड़े।

कई जगहों पर ढूंढने के पश्चात भी नही मिलने पर थक-हार कर सुखदेव नगर थाना पहुँचे। पुलिस से बेटी को ढूंढ निकलने का आग्रह किया तथा बेटी की एक तस्वीर और स्कूटी का नंबर पुलिस को दिया । पुलिस ने छात्रा को ढूंढने के लिए वायरलेस भी किया था। लेकिन कुछ पता नहीं चला। लोकेशन ढूंढते हुई पुलिस जब सिटी मॉल के पिछले छोर पर पहुंची तो लड़की की लाश पड़ी थी। 

छात्रा के पिता के अनुसार शुक्रवार की शाम छह बजे की ट्रेन से वे सपरिवार महाराष्ट्र के शिरडी जाने वाले थे। वहां साईं मंदिर का दर्शन करना था। पिता की पोस्टिंग भी वहीं है। वे यूनियन बैंक में सीनियर मैनेजर के पोस्ट पर पदस्थापित हैं। घर में शिरडी जाने की तैयारी पर शुक्रवार की सुबह चर्चा चल रही थी। इसपर बेटी बोली कि 15 मई को प्रतियोगिता परीक्षा है। वहां से वह अकेली फ्लाइट से लौट जाएगी।

इसपर पिता ने अकेले आने से मना किया बोले मां के साथ ट्रेन से लौटना। इस बातचीत के क्रम में पिता ने परीक्षा के रिजल्ट को लेकर उसे डांट लगाई। इसके बाद से ही वह डेप्रेशन में आ गई। पिता को यह महसूस भी हुआ था लेकिन तबतक वह घर से बहाना बना कर निकल गई और अपनी जान सातवें मंजिल से कूद कर दे दी ।
लाश देख पिता बोले एक मौका तो दिया होता बेटी….
बेटी की लाश को देख पिता रो पड़े। कराहते हुए बोले एक मौका तो दिया होता बेटी। बेटी के शव से लिपटकर रोने लगे। वहां मौजूद पुलिसकर्मियों ने उन्हें किसी तरह ढांढस बंधाया। मामले में सुखदेव नगर थाने में पिता के बयान पर यूडी केस दर्ज किया गया है।
लोगों ने उसे चढ़ते हुए देखा था

छात्रा जब मॉल पर चढ़ रही थी, कुछ लोगों ने देखा था। पुलिस को लोगों ने बताया कि उसे चढ़ता देख लड़की होने की वजह से किसी ने नहीं टोका। हालांकि वह सीढिय़ों से चढ़कर ऊपर की ओर जा रही थी। फिलहाल पहले और दूसरे तल्ले पर ही रिलायंस ट्रेंड्स की दुकान तैयार हो सकी है। पूरी बिल्डिंग निर्माणाधीन है।

पुलिस ने जब छात्रा के गायब रहने की स्थिति में लोकेशन निकाला तो पता चला कि वह हरमू रोड के सिटी मॉल की तरफ है। छात्रा को ढूंढते हुए पुलिस व पिता जब सिटी मॉल पहुंचे तो वहां कुछ लोगों ने बताया कि एक लड़की अभी थोड़ी देर पहले ही बिल्डिंग के सातवें तल्ले पर चढ़ती देखी गई है। जब परिजन व पुलिस वहां पहुंचे तो देखा कि लड़की मृत पड़ी हुई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: