कोल्हान की सभी सीटों पर होगी मुंडा बनाम कोड़ा की जंग

दो पूर्व मुख्यमंत्रियों की साख दांव पर

0 95

विनय मिश्रा
चाईबासा। झारखंड विधानसभा चुनाव की घोषणा के साथ झारखंड का सियासी तापमान बढ़ने लगा है। कोल्हान की सीटों पर द्वितीय चरण के अंतर्गत 7 दिसम्बर को मतदान होगा। यहां दो पूर्वमंत्रियों की साख दांव पर लगेगी। उल्लेख्य है कि कोल्हान प्रमंडल के तीनों जिले पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा और पूर्व मुख्यमंत्री तथा वर्तमान केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा का क्षेत्र है। अर्जुन मुंडा खूंटी के सांसद बनने के पश्चात केंद्रीय मंत्री बने हैं। वहीं, दूसरी ओर मधु कोड़ा का जगरनाथपुर विधानसभा सीट पर विगत दो दशकों से कब्जा है। उन्होंने दो बार विधायक, मंत्री और मुख्यमंत्री तक का सफर तय किया है। इसके पश्चात 2009 में निर्दलीय सांसद चुन कर वे इस क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। उनकी पत्नी गीता कोड़ा भी दो बार विधायक चुनी गई। श्रीमती कोड़ा वर्तमान समय में सिंहभूम संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस की एकमात्र सांसद है। इस बार विधानसभा चुनाव की घोषणा होने के साथ ही महागठबंधन की बात सामने आ रही हैं। गौरतलब है कि पश्चिम सिंहभूम के कुल पांच सीटों में से चार पर झामुमो का कब्जा है। जगरनाथपुर विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस की दावेदारी रहेगी। इसके अलावा सराईकेला- खरसावांवा जिला के तीन में से दो पर झामुमो का कब्जा है। एक पर भाजपा के विधायक हैं। हाल के दिनों में कांग्रेस के जिला अध्यक्ष सन्नी सिंकू ने यह बयान देकर राजनीतिक तापमान बढा दिया है कि कांग्रेस सिंहभूम के सभी सीटों पर आगे रही थी, इसलिए कांग्रेस की सभी सीटों पर मजबूत दावेदारी है। लेकिन झामुमो का अधिकतर सीटों पर कब्जा रहा है इसलिए महागठबंधन बनने की सूरत में कांग्रेस की दलील एक दो सीट पर ही सुनी जा सकती है। मधु कोड़ा पूरी कोशिश करेंगे कि वे अपने प्रभाव से कोल्हान की सीटों पर महागठबंधन के प्रत्याशियों को जीत हासिल कर यूपीए के अंदर अपना कद बढ़ाएं। वहीं, अर्जुन मुंडा एनडीए उम्मीदवारों को जिताने के ले अपनी पूरी ताकत लगाएंगे। अभी भाजपा और आजसू के बीच कोल्हान की सीटों को लेकर खींचतान जारी है। बहरहाल, सीटों के बंटवारे को लेकर यूपीए और एनडीए में मंथन शुरू हो गया है। ऊंट किस करवट बैठता है, ये तो सीटों के तालमेल और उम्मीदवारों की घोषणा के बाद ही पता चलेगा। लेकिन प्रत्याशी कोई भी हों वास्तविक लड़ाई मधु कोड़ा और अर्जुन मुंडा के बीच ही होगी। इतना तय है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: