राष्ट्रीय ओबीसी मोर्चा ने मनाई शहीद जगदेव प्रसाद की जयंती

* प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में बोले राजेश गुप्ता- ओबीसी समुदाय को मिले वाजिब हक

0 154

रांची। राष्ट्रीय ओबीसी मोर्चा के तत्वावधान में हरमू स्थित आशीर्वाद भवन में शहीद जगदेव प्रसाद की जयंती मनाई गई। मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष राजेश कुमार गुप्ता ने शहीद जगदेव प्रसाद की तस्वीर पर माल्यार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित किया। श्री गुप्ता ने उनके व्यक्तित्व और कृतित्व पर प्रकाश डाला। इस मौके पर उन्होंने कहा कि ओबीसी समाज का कल्याण शहीद जगदेव प्रसाद द्वारा बताए गए रास्ते पर चलकर ही होगा। शहीद जगदेव प्रसाद ओबीसी समुदाय के संरक्षक के रूप में ओबीसी के हितों के संरक्षण के लिए सदैव तत्पर रहते थे। जयंती समारोह के बाद ओबीसी मोर्चा के प्रदेश कमेटी की बैठक हुई। इसमें सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि महागठबंधन की सरकार के मुखिया हेमंत सोरेन से मुलाकात कर उन्हें राष्ट्रीय ओबीसी मोर्चा शुभकामनाएं देगी।
बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि जाति आधारित जनगणना कराने के लिए सरकार पर दबाव देने के लिए एक दिवसीय धरना कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।श्री गुप्ता ने कहा कि जाति आधारित जनगणना नहीं होने से ओबीसी समुदाय का विकास थम गया है। क्योंकि पिछले बजट में केंद्र सरकार ने ओबीसी समुदाय जिसकी आबादी 52 प्रतिशत है, उसके विकास के लिए मात्र जीरो(.67 )अर्थात 1 प्रतिशत से भी कम राशि का प्रावधान किया था। यदि ओबीसी समुदाय की गिनती हो गई होती, तो जनसंख्या के आधार पर लगभग 52 प्रतिशत डेवलपमेंट के लिए बजट में रकम का प्रावधान किया गया होता। इससे ओबीसी समुदाय को बड़ा नुकसान है। ओबीसी को पीछे धकेलने का सिलसिला 1947 के बाद की सरकारों से लेकर आज तक जारी है।
बैठक में वरिष्ठ पत्रकार रजत कुमार गुप्ता की माता के निधन पर दो मिनट का मौन रखकर शोक व्यक्त कर मृतक की आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की गई।
इस मौके पर प्रदेश महासचिव मोहम्मद अल्तमस, प्रदेश संगठन सचिव शत्रुघ्न राय, छात्र मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष नवीन साहू, प्रदेश उपाध्यक्ष इंद्र राज आनंद, डीएन महतो, प्रताप कुमार कुशवाहा, बबलू कुमार गुप्ता, विनय कुमार चंद्रवंशी, आरबी सहाय, दिनेश्वर प्रसाद, बीरेंद्र प्रसाद साहु, विजय कुमार, मुकेश कुमार, अजय कुमार,सुरेश राय,वीरेन्द्र कुशवाहा सहित अन्य उपस्थित थे। धन्यवाद ज्ञापन विनय कुमार चंद्रवंशी ने किया। यह जानकारी राष्ट्रीय ओबीसी मोर्चा के मीडिया प्रभारी अशोक कुमार महतो ने दी।

पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: