बाघमारा वासियों को विकास पुरूष जलेश्वर महतो की दरकार

रंगदारी और आतंक से निजात चाहते हैं विधानसभा क्षेत्र के मतदाता  

1 235

पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

धनबाद। महागठबंधन प्रत्याशी पूर्व जलमंत्री जलेश्वर महतो के बाघमारा विधानसभा क्षेत्र में उतरने के बाद माहौल तेजी से बदल रहा है। उन्हें हर जाति समुदाय और हर वर्ग के लोगों का अपार समर्थन मिल रहा है। विधायक के रूप में उनका दस साल का कार्यकाल लोगों को अभी तक याद है। उस दौरान पूरे बाघमारा विधानसभा क्षेत्र में विकास जो विकास को गति मिली थी। वह आज भी लोगों के जेहन में है। उनके कार्यकाल में ही पाथरगड़िया जलापूर्ति योजना, बांगडा जलापूर्ति योजना, कतरास एंव जमुनिया जलापूर्ति योजना जैसी कई बड़ी-बड़ी योजनाएं धरातल पर उतरी थीं। जिसके तहत बाघमारा, डुमरा, सदरियाडीह, मधुबन, खरखरी, बांसजोडा, बरोरा, नवागढ़, खरखरी, महुदा, तेलमोच्चो, लोहपट्टी बंगडा, सिंगडा, कतरास, तिलाटांड, बेहाकुदर, कपुरिया, नगदा सहित अन्य गांवों में बड़े-बड़े जलमिनारों का निर्माण हुआ। पाईप लाइन के जरिये पानी लोगों के घर-घर तक पानी पहुंचा। लोलों को पेयजल की समस्या से निजात मिला। पूर्व जलमंत्री जलेश्वर महतो ने लोगों का सपना पूरा किया। जहां पाईप लाइन नहीं पहुंचा वहां चापाकल लगवाए। महिलाओं को यह विकास कार्य याद है। शिक्षा के क्षेत्र में भी उन्होंने अतुल्य विकास किया। दर्जनों स्कूल कॉलेज खुलवाए। इन्हीं जनप्रिय कार्यो के कारण जलेश्वर महतो को विकास पुरूष कहा जाने लगा था। उनके कार्यकाल के बाद रंगदारी बढ़ी और विकास का चक्का थम गया। रोजगार का संकट बढ़ता चला गया। पिछले दस साल अराजकता की भेट चढ़ गए। अब लोग फिर से विकास के स दौर की वापसी चाहते हैं और बीच के दस वर्षों को एक दुःस्वप्न की तरह भूल जाना चाहते हैं। लोग चाहते हैं कि क्षेत्र का विकास दुबारा पटरी पर दौड़े और युवावर्ग रोजगार से जुडे। अराजकता का दौर खत्म हो। व्यवसायी चैन की सांस लें। क्षेत्र की अर्थव्यवस्था पटरी पर वापस आए।

हजारों महिलाओं को मिला रोजगारः  जलेश्वर महतो के  कार्यकाल में ही आधी आबादी को ताकत मिली, स्वयं सहायता सूमह का गठन कराकर हजारों महिलाओं को रोजगार दिलाया। उनके प्रयास व अनुशंसा पर बाघमारा प्रखंड में 436 आंगनबाड़ी केंद्र चालू हुए। उन केंद्रो में 436 सेविका एंव 436 सहायिका की बहाली हुई। इसके अलावा करीबन 400 महिलाओं को स्वास्थ्य विभाग में सहिया के रूप रोजगार के लिए जोड़ा गया। बडे़ पैमाने पर शिक्षित बेरोजगारों को रोजगार मिला। गांवों में पीसीसी एंव पक्की सड़क का जाल बिछा। बिजली समस्या काफी हद तक दूर हुई। सुदुर गांवों को मुख्य सड़क से जोड़ने का कार्य भी उनके कार्यकाल में ही हुआ। उन्होंने मंत्री एवं विधायक मद के अलावे केंद्र, राज्य व जिला की कई बडी सरकारी योजनाओं को बाघमारा की सरजमीन पर उतारा है।

कोयला उद्यमियों को मिली पूरी आजादी: जलेश्वर महतो क कार्यकाल में कोयला उद्यमियों को पूरी आजादी के साथ व्यवसाय करने का मौका मिला। कहीं भी किसी तरह की रंगदारी नहीं देनी पड़ी। छोटे डीओ धारक भी बेहिचक हर कोलियरी में डीओ लगाते थे। नवागढ के समाजसेवी बासुकीनाथ लाला एंव झगराही के रविन्द्र पांडेय, कांड्रा के मुखिया चक्रधारी महतो, निचितपुर के राहुल महतो, कपुरिया के मुखिया गजाधर महतो, माटीगढा के लगनदेव महतो, कतरास के रोबिन पाल बताते है कि  जलेश्वर महतो के कार्यकाल में कहीं भी किसी तरह की रंगदारी व भ्रष्टाचार नही था। लोग सुख चैन से रहते थे।

आतंकराज के विरूद्ध परिवर्तन की हवाः जलेश्वर:

महागठबंधन के प्रत्याशी जलेश्वर महतो का कहना है कि वर्तमान विधायक के कार्यकाल में क्षेत्र का विकास नही हुआ बल्कि विनाश हुआ। बाघमारा गांधी प्रखंड गुंडाराज कहलाने लगा। क्षेत्र में रंगदारी, लूटपाट एंव भ्रष्टाचार बढ़ा है। गरीबों की जमीन छीन ली गयी। लोग गुंडाराज से त्रस्त है। वर्तमान विधायक के आंतक से युवा वर्ग पलायन हो रहा है। कोयला, बालू की लूट मची हुई है। मजदूरों का शोषण हो रहा है। कोयला व्यवसायी रंगदारी से तंग आ चुके हैं। वर्तमान विधायक की कारगुजारियों को जनता समझ चुकी है। इस बार जनता बदलाव के मूड में है। वे कहते हैं कि मेरे दरबार से आज कोई खाली हाथ नहीं लौटा। लोगों के दुःख -सुख में हमेशा साथ रहा। क्षेत्र की जनता का मेरे प्रति दिन-प्रतिदिन लोगों का बढ़ता समर्थन इस बात का संकेत देता है कि इस बार प्रचंड बहुमत के साथ मेरी जीत सुनिश्चित है।

जलेश्वर युवाओं के लिए उम्मीद की किरणः महागठबंधन प्रत्याशी जलेश्वर महतो को जिताने के लिए पूर्व मंत्री ओपी लाल,  कांग्रेस के प्रदेश सचिव रणविजय सिंह, शकील अहमद, झामुमो के प्रखंड अध्यक्ष रतिलाल टुडू, अजमुल अंसारी, रंजीत महतो, राजद के जिलाध्यक्ष तारकेश्वर यादव, रोहित यादव, युवा नेता सुमित महतो जैसे कई दिग्गज नेता कृतसंकल्पित है। दिनरात एक करके जनता से वोट  मांग रहे है। ओपी लाल का कहना है कि जलेश्वर के नेतृत्व में ही बाघमारा का विकास संभव है। रणविजय सिंह ने कहा जलेश्वर युवाओं के लिए उम्मीद की किरण है।

1 Comment
  1. Sk sahab says

    Jalaswar mahto jindabad

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: