सभी स्कूलों में कक्षा एक से तीन तक 22 जून तक छुट्टी, रघुवर दास ने कहा, रांची में जुलाई तक हो जीरो पावर कट, नहीं तो कार्रवाई

0 51

रांची :- मुख्यमंत्री रघुवर दास ने मंगलवार को बिजली विभाग के पदाधिकारियों से कहा कि झारखंड में निर्बाध बिजली की आपूर्ति सुनिश्चित करें। इसके लिए सरकार हर व्यवस्था उपलब्ध करा रही है। अधिकारी इसे गंभीरता से लें।

पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

जिन जिलों में दो-तीन माह में बिजली आपूर्ति की स्थिति नहीं सुधरी, वहां के अधिकारियों पर कार्रवाई की जायेगी।मुख्यमंत्री ने राजधानी में बिजली संकट पर रांची के जीएम से पूछा कि कब तक बिजली आपूर्ति निर्बाध होगी। इस पर जीएम ने कहा कि तीन से चार माह लग जायेंगे। इस पर सीएम ने जीएम पर बरसते हुए कहा कि इतना टाइम कैसे लगेगा। जुलाई तक जीरो पावर कट नहीं हुआ, तो कार्रवाई के लिए तैयार रहें। रांची में भी जो परेशानी है, उसे जल्द ठीक करें। सरकार किसी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं करेगी।
अधिकारी टाइमलाइन दें और पूरा ना कर सके तो सीधी कार्रवाई होगी। सीएम ने उक्त बातें झारखंड मंत्रालय में झारखंड विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के महाप्रबंधकों के साथ हुई समीक्षा बैठक में कही।
इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि गांव की हमारी जनता जो 70 साल से बिजली का बाट जोह रही थी, उन तक बिजली पहुंचा दी गयी है। अब उन्हें 24 घंटे बिजली उपलब्ध कराने के लिए आधारभूत संरचना तैयार की जा रही है। सभी महाप्रबंधक स्वयं ध्यान देकर यह काम पूर्ण करायें।
 
मुख्यमंत्री ने कहा कि गांव-गांव में स्ट्रीट लाइट लगायी जा रही है। इसके लिए जो भी मदद की जरूरत हो, उसमें महाप्रबंधक भी सक्रियता दिखायें। नये कनेक्शन दिये गये हैं। इस कारण लोड बढ़ा है। बाकी चीजों की जरूरत भी बढ़ी है।
मैनपावर सहित हर जरूरत पूरी होगी
मुख्यमंत्री ने कहा कि निर्बाध बिजली आपूर्ति के लिए मैनपावर सहित जो भी जरूरत है उसकी सूची तैयार करें। तुरंत पहल होगी। महाप्रबंधक इसके लिए तय समय में तैयारी करें। मुख्यमंत्री ने सभी को टाइमलाइन बनाकर काम पूरा करने का निर्देश दिया। बैठक में मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुनील कुमार वर्णवाल, ऊर्जा सचिव वंदना डाडेल, निगम के प्रबंध निदेशक राहुल पुरवार समेत अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
सभी स्कूलों में कक्षा एक से तीन तक 22 जून तक छुट्टी

गर्मी को देखते हुए राज्य में सरकार के अधीन संचालित विद्यालयों के संचालन को लेकर सरकार ने दिशा-निर्देश जारी किया है। स्कूली शिक्षा व साक्षरता विभाग के प्रधान सचिव एपी सिंह द्वारा सभी उपायुक्त को पत्र भेजा गया है। इधर, रांची जिला प्रशासन ने सभी विद्यालयों में एक से तीन तक कक्षाएं 22 जून तक स्थगित रखने का निर्देश दिया है। इस संबंध में उपायुक्त राय महिमापत रे ने देर शाम आदेश जारी कर दिया है।

इससे पहले शिक्षा विभाग ने कहा कि गर्मी के कारण राज्य में संचालित सरकारी विद्यालयों में कक्षा एक से तीन तक की कक्षाएं 22 जून तक स्थगित रहेंगी।
कक्षा चार से आठ तक के बच्चों के लिए विद्यालय सुबह 6.30 से 9.30 बजे तक चलेगा। कक्षा चार से आठ तक के बच्चों को मध्याह्न भोजन खिलाने के बाद छुट्टी देने को कहा गया है। कक्षा नौ से 12वीं तक कक्षाएं सुबह 6.30 से 10.30 बजे तक चलेंगी। निजी स्कूल के मामले में डीसी को स्थानीय स्थिति को देखते हुए निर्णय लेने को कहा गया है।
स्कूलों को कई निर्देश : सभी विद्यालयों में पूर्व के निर्देश के अनुरूप पेयजल की व्यवस्था करने को कहा गया है। सभी विद्यालयों में बिजली की उपलब्धता है।
विद्यालयों में पंखा लगाने को कहा गया है। आवासीय विद्यालयों में वाटर कूलर लगाने को कहा गया है। शिक्षकों को नियमित रूप से विद्यालय आने का निर्देश दिया गया है। विद्यालयों में 24 जून ने पूर्व निर्धारित समय के अनुसार सुबह 6.30 से 11.30 बजे तक कक्षाएं चलेंगी। विभाग ने कम से कम 75 फीसदी उपस्थित सुनिश्चित करने को कहा गया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: