भारतीय नौसेना के अधिकारी के पुत्र ने किया लंगर में सहयोग

* हैप्पी चिल्ड्रेन स्कूल परिसर में लाॅकडाउन के 51वें दिन दो सौ गरीबों के बीच भोजन वितरित

0 144

रांची / तुपुदाना : लाॅकडाउन के दौरान गरीबों के लिए तुपुदाना के आरके मिशन रोड स्थित हैप्पी चिल्ड्रन स्कूल परिसर में चलाए जा रहे लंगर में आज दो सौ लोगों के बीच भोजन का वितरण किया गया। इसमें नई दिल्ली निवासी भारतीय नौसैनिक अधिकारी कमांडर निशांत कुमार के पुत्र ऋषभ ने सहयोग किया। उनके सौजन्य से गरीबों को खाना खिलाया गया। इस संबंध में समाजसेवी दिलबाग सिंह ने बताया कि लॉकडाउन शुरू होने के बाद से प्रतिदिन आसपास के इलाकों के गरीबों को भोजन कराया जा रहा है। इसमें विभिन्न समाजसेवियों का भी सहयोग प्राप्त होता है। उन्होंने कहा कि लाॅकडाउन के दौरान गरीबों को भोजन के लिए हो रही परेशानियों को देखते हुए उन्होंने प्रतिदिन दोपहर में खाना खिलाने का निर्णय लिया है। इस संकल्प के तहत वे पीड़ित मानवता की सेवा में जुटे हैं। उन्होंने कहा कि लंगर में उनके सहपाठियों, सहकर्मियों सहित अन्य समाजसेवियों का भी सहयोग मिल रहा है। श्री सिंह ने कहा कि लॉकडाउन की अवधि तक गरीबों के बीच दोपहर में प्रतिदिन भोजन का वितरण किया जाएगा। इस मौके पर एआईडब्लूसी की हटिया-तुपुदाना शाखा की अध्यक्ष शांति सिंह, समाजसेवी विजय नागवेकर, प्रदीप माहथा, राजेश सहित अन्य मौजूद थे।

पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: