इंटर की छात्रा से तीन युवकों ने किया सामूहिक दुष्‍कर्म, डोरंडा से अगवा कर ले गए थे धुर्वा डैम

0 39

रांची:- रांची के तुपुदाना इलाके की रहने वाली इंटरमीडिएट की 16 वर्षीय छात्रा से धुर्वा डैम के पास सामूहिक दुष्कर्म का मामला प्रकाश में आया है। घटना के तीन दिन बाद छात्रा को दोबारा ब्लैकमेल कर दुष्कर्म के लिए बुलाने के दौरान परिजनों ने दो बदमाशों को दबोच लिया और जमकर धुनाई करने के बाद पुलिस के हवाले कर दिया। एक आरोपित अभी भी फरार है।

पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

छात्रा के अनुसार तीन बदमाशों ने 15 जुलाई को डोरंडा से ऑटो से उसे अगवा किया था। इसके बाद धुर्वा डैम के पास ले जाकर बारी-बारी से दुष्कर्म किया। बदमाशों ने छात्रा का मोबाइल भी लूट लिया था। छात्रा के पिता ने घटना के तीसरे दिन बुधवार को छात्रा के मोबाइल पर फोन किया तो युवकों ने कहा- बेटी को भेज दो, तभी मोबाइल वापस मिलेगा। इसके बाद छात्रा के पिता, भाई और मामा ने बदमाशों को दबोचने की ठानी। फिर छात्रा को आगे भेजकर उसके भाई और मामा पीछे-पीछे निकले।

उधर छात्रा के इंतजार में तीनों अपराधी बिरसा चौक पर खड़े थे। छात्रा ने जैसे ही इशारे से उसकी पहचान की, भाई और मामा ने उनमें से दो को दबोच लिया, जबकि एक मौके से फरार हो गया। इसबीच आसपास के लोगों ने पकड़े गए युवकों की जमकर धुनाई भी की। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए आरोपितों में डोरंडा इमली खटाल निवासी नंदकिशोर यादव उर्फ गोलू और मनी यादव शामिल हैं, जबकि तीसरा सरोज यादव फरार है। सभी मूल रूप से बिहार के भोजपुर कृष्णानगर के रहने वाले हैं। पुलिस ने गिरफ्तार आरोपितों को जेल भेज दिया है। छात्रा के बयान पर जगन्नाथपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है। 

तेज आवाज में गाना बजाते हुए ले गए थे धुर्वा डैम 
छात्रा ने पुलिस को दिए बयान में बताया है कि बीते 15 जुलाई को करीब 11 बजे वह कॉलेज से निकलकर घर जाने के लिए डोरंडा मुख्य सड़क पर खड़ी थी। उसी दौरान एक ऑटो रुका, जिसमें चालक के अलावा पहले से दो युवक बैठे थे। कुछ दूर आगे जाने पर ऑटो में लगे लाउडस्पीकर से तेज आवाज में गाना बजाने लगे। साथ ही दोनों ओर का पर्दा गिरा दिया। फिर, छात्रा का मुंह बंद कर तीनों उसे धुर्वा डैम ले गए, जहां तीनों ने बारी-बारी से उसके साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद दो युवक वहीं उतर गए, जबकि तीसरे ने ऑटो में बैठाकर छात्रा को बिरसा चौक लाकर छोड़ दिया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: