जहां सरकार नाकाम , वहां युवा आ रहे काम

कोरोना कालः झारखंड में भी हैं एक सोनू सूद

0 130

रांची। कोरोना की दूसरी लहर को संभालने में झारखंड सरकार के हाथ-पांव पूरी तरह फूल चुके हैं। लेकिन रांची के युवा वर्ग के लोग पीड़ितों की मदद के लिए आगे आए हैं। उनमें एक उल्लेखनीय नाम है तरंग भारत नामक संस्था के संस्थापक शुभम सिंह का। वे झारखंड का सोनू सूद बन चुके हैं। उन्होंने जरूरत मंदों को आक्सीजन सिलिंडर, दवाएं, अस्पताल आदि मुहैय्या कराने में दिन-रात एक कर दिया है। जो अपने घरों में आइसोलेट होकर कोरोना से जंग लड़ रहे हैं उनके लिए भोजन का पैकेट तैयार कराकर उनतक पहुंचाने के काम में निरंतर लगे हुए हैं। उन्होंने अपने राष्ट्रव्यापी संबंधों के दायरे को सक्रिय कर दिया है। झारखंड के अलावा दूसरे राज्यों से भी जरूरतमंद लोग उनसे फोन और सोशल मीडिया पर संपर्क कर रहे हैं और शुभम सिंह उन्हें यथा संभव मदद पहुंचाने का काम कर रहे हैं।कोरोना महामारी में जहां कोरोना से ग्रसित मरीजों से उनके अपने लोगों ने मुंह मोड़ लिया उस वक्त शुभम ने जरूरतमंदों को सहयोग राशि और असहाय , निर्धन लोगों को नि : शुक्ल पोर्टेबल ऑक्सीजन , भोजन और अस्पताल में बेड दिलाने में सहयोग कर रहे हैं । उनका फोन हमेशा ऑन रहता है, पता नहीं कब किसको उनकी जरूरत पड़ जाए।सभी जरूरतमंदों को 24 घंटा मदद मिल सके इसलिए उन्होंने अपना नंबर भी जारी किया है (8092352934) ।
शुभम कहते हैं इस संकट की घड़ी में उनसे जितना हो पायेगा वह हमेशा लोगों के मदद के लिए खड़े हैं ।
इस कोरोना काल में जहां लोग एक दूसरे को छूने से डर रहें हैं , शुभम कोरोना मरीजों तक जाकर उनकी हर संभव मदद कर रहे हैं ।

पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

पुस्तकः विश्व की प्राचीनतम सभ्यता लेखकः पं. अनूप कुमार वाजपेयी,कई पुरस्कारों से पुरस्कृत समीक्षा प्रकाशन, दिल्ली, मुजफ्फरपुर, मूल्य-2000 रुपये लेखक ने राजमहल पहाड़ियों और चट्टानों पर संसार के प्राचीनतम आदिमानव के पदचिन्ह ढूंढ निकाले। पता-वाजपेयी निलयम, नया पारा, दुमका झारखंड

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: